जैव-विविधता

हम जैव-विविधता की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं

उन्नत विशेषताओं से युक्त नए पौधों को विकसित करने के लिए, हमारे शोधकर्ताओं के लिए ज़रूरी है कि वे लगातार जुती हुई प्रजाति की आनुवंशिक परिवर्तनशीलता को व्यापक बनाएँ। इसलिए वे आज हमेशा की तरह जैव-विविधता के रखवाले बने हुए हैं। ग्रह के पोषण के लिए आहार विकसित करने हेतु मानव के काम का विस्तार करने के लिए जैव-विविधता को बनाए रखने में प्रजनक जैव-विविधता के प्रबंधक हैं। प्रजनक पौधों के संग्रह को संरक्षित और अनुरक्षित करते हैं ताकि विशेषताओं की विस्तृत शृंखला तैयार हो जिसका उपयोग प्रयोक्ता तथा उपभोक्ताओं के वर्तमान और भावी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जा सके।

नई किस्में तैयार करना

सदियों से मानव-जाति ने अपनी ज़रूरतों के लिए पौधों के अनुकूलन हेतु अनुभवजन्य तरीक़ो का इस्तेमाल किया है। आज, प्रजनक अत्यधिक वैज्ञानिक उपकरण और साधनों का उपयोग करते हुए बड़ी सफाई से इस काम को आगे बढ़ा रहे हैं। हमारे व्यापार में शामिल है रोग प्रतिरोध या स्वाद में सुधार जैसे वांछित गुणों के लिए पौधों को संकरित करके मौजूदा पौधों (आनुवंशिक संसाधन) से नई किस्में बनाना। इन संकरणों से उत्पादित बेहतरीन पौधे – संतति – का वाणिज्यिक उत्पादन के लिए चयन किया जाता है। वर्धित रोग प्रतिरोध और बेहतर कृषि निष्पादन के साथ वाणिज्यिक पौधों के उत्पादन द्वारा, हम खाद्य उत्पादन की कृषि विविधता को बढ़ाने में सक्षम हैं।

जीवित पदार्थों की विविधता

जैव विविधता सभी स्वरूपों में मौजूद जीवों की परिवर्तनशीलता को वर्णित करती है: पारिस्थितिक तंत्र की विविधता (रेगिस्तान, प्रवाल भित्तियाँ, जंगल, जुती हुई भूमि…), प्रजातियों की विविधता और, कम दिखाई देने वाली, जीन और उनके संयोजन की विविधता। जैव-विविधता को बनाए रखने और बढ़ाने की ज़रूरत 1992 के बाद रियो में आयोजित संयुक्त राष्ट्र पृथ्वी शिखर सम्मेलन में हासिल अंतर्राष्ट्रीय मान्यता से लाभान्वित हुई है, जहाँ जैव-विविधता पर लोक संमति (CBD) को अपनाया गया। इस सम्मेलन ने विशेष रूप से अपने प्राकृतिक विरासत के बारे में प्रत्येक सरकार की संप्रभुता और उसकी सीमाओं के भीतर निहित जैव-विविधता को स्थापित किया। संयुक्त राष्ट्र खाद्य और कृषि संगठन जैसे संगठनों ने खाद्य और कृषि के लिए वनस्पति आनुवंशिक संसाधन अंतर्राष्ट्रीय संधि के तत्वावधान में जैव-विविधता के लिए पहुँच प्रबंधित करने के लिए जिम्मेदार दृष्टिकोण के कार्यान्वयन का नेतृत्व किया।